Wednesday, 29 May 2019

HPCL AND CSIR-NPL RELEASE 26 BNDs ON WORLD METROLOGY DAY - एचपीसीएलऔरसीएसआईआर-एनपीएलनेविश्वमापिकीदिवसकेअवसरपर 26बीएनडी जारी किया।



29 मई,2019
एचपीसीएल और सीएसआईआर-एनपीएल ने विश्व मापिकी दिवस के अवसर पर20 मई,2019 को26 पेट्रोलियम बीएनडी (भारतीय निर्देशक द्रव्य या इंडियन रेफरेंस मटिरियल) जारी करते हुए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर प्राप्त किया है।

यह26 पेट्रोलियम बीएनडी संयुक्त रूप से एचपीसीएल और सीएसआईआर-एनपीएल नेविकसित किया है। यह13 भौतिक गुणधर्म,2 भौतिक रासायनिक गुणधर्म और 11 रसायनिक गुणधर्म समाहित पेट्रोलियम उत्पाद परीक्षण और प्रमाणन के सभी मुख्य पैरामीटरों के लिए पता लगाने की संभावना प्रदान करती है जिसमें बीएसVI फ्यूल के लिए अति उपयोगी निम्न सघनता पर सल्फर कंटेट मापन के लिए बीएनडी शामिल है।यह पहल सर्टिफाइड रेफरेंस मटेरियल (सीआरएम) के लिए आयात प्रतिस्थापन के जरिए महत्वपूर्ण विदेशी मुद्रा को बचाएगा।
भारत सरकार के पूर्व प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार डॉ.आर.चिदंबरमने सीएसआईआर-एनपीएल, दिल्ली में डॉ. शेखर एस मंडे, महानिदेशक-सीएसआईआरएवं सचिव-वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग, भारत सरकार, डॉ.डी के असवाल, निदेशक, सीएसआईआर-एनपीएल, प्रो.ए के ग्रोवर, अध्यक्ष अनुसंधान परिषद,सीएसआईआर-एनपीएल एवं पूर्व कुलपति पंजाब विश्वविद्यालय और अन्य प्रतिष्ठितों की उपस्थित्ति में बीएनडी जारी किया।
एचपीसीएल भारत में पेट्रोलियम क्षेत्र में सीआरएम के उत्पादन में आगे रहा है और वर्ष 2019 में सीआरएम पहल के लिए प्लेटिनम वर्ग में प्रतिष्ठित भारतीय गुणवता परिषद-डीएन शाह राष्ट्रीय गुणता अवार्ड प्राप्त किया है।
सीएसआईआर-राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला (सीएसआईआर-एनपीएल) भारत का राष्ट्रीय मापन संस्थान है जो संसद अधिनियम और मापन की मूलभूत इकाई के अभिरक्षक द्वारा बनाया गया है। 
भारत में पेट्रोलियम क्षेत्र में प्रयुक्त बीएनडी के विकास की पहल के कारण एसआई प्रणाली का पता लगाने की संभावना का स्थान विदेशी राष्ट्रीय मापन संस्थानों (एनएमआईएस) की जगह भारतीय एनएमआईएस ने लिया है।
Date: 29th May 2019
HPCL and CSIR–NPL achieved significant milestone by releasing 26 Petroleum BNDs (Bharatiya NirdeshakDravya or Indian Reference Material) on 20th May’2019 coinciding with the occasion of World Metrology Day.
The 26 Petroleum BNDs jointly developed by HPCL and CSIR-NPL will provide traceability for all vital parameters of Petroleum products testing and certification comprising of 13 Physical properties, 2 Physicochemical properties and 11 Chemical properties including BND for sulfur content measurement at lower concentrations which will be of immense use for BS VI fuels. The initiative will save vital foreign exchange through import substitution for Certified Reference Materials (CRMs).
Dr. R Chidambaram, former principal scientific advisor to Government of India, released the BNDs at CSIR-NPL, Delhi in the presence of Dr. Shekhar S Mande, Director General- CSIR & Secretary- Department of Scientific and Industrial Research, Govt. of India, Dr. D K Aswal, Director, CSIR-NPL, Prof A K Grover, Research Council Chairman, CSIR- NPL & Former VC - Punjab University and other dignitaries.
HPCL has been in the forefront of producing CRMs in India for petroleum sector and has received the Prestigious Quality Council of India–D L Shah National Quality Award in Platinum Category in 2019 for CRM initiative.
CSIR-National Physical Laboratory (CSIP-NPL) is the National Measurement Institute of India by formed by Act of Parliament and custodian of the fundamental units of measurement. 
The initiative for developing BNDs used in Petroleum sector in India will result in replacing the traceability to SI system through foreign National Measurement Institutes (NMIs) to Indian NMIs.

No comments:

Post a comment